Home national कांग्रेस की रैली पर शाह का हमला, कहा- हार से निराश राहुल...

कांग्रेस की रैली पर शाह का हमला, कहा- हार से निराश राहुल गांधी कर रहे परिवार आक्रोश रैली

41
0
SHARE

नई दिल्ली । भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस पार्टी की जन आक्रोश रैली पर निशाना साधा है। अमित शाह ने इस रैली को परिवार आक्रोश रैली करार दिया है। अमित शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को घेरते हुए ट्विटर पर एक के बाद एक कई ट्वीट किए हैं। शाह ने अपने ट्वीट में लिखा कि एक वंश और उनके दरबारी एक के बाद एक जनादेश के चलते राज्यों से बेदखल हो रहे हैं और अब वे जनाक्रोश व्यक्त कर रहे हैं। आज की कांग्रेस रैली कुछ और नहीं, बल्कि परिवार आक्रोश रैली है, जो उनकी बढ़ती अलोकप्रियता को उजागर करती है।

अमित शाह ने अपने अगले ट्वीट पर लिखा आज के परिवार आक्रोश रैली के दौरान आप भारत के लिए नफरत को देखेंगे। 125 करोड़ भारतीयों ने कांग्रेस की विकास विरोधी और विभाजनकारी राजनीति को नकार दिया है। कांग्रेस की विभाजनकारी राजनीति सबके सामने आ गई है। अमित शाह ने आगे कहा कि यदि कांग्रेस जन आक्रोश देखना चाहती है तो उसे चुनावों में हो रही अपनी लगातार हारों को देखना चाहिए। अब जनता कांग्रेस के झूठ, खोखले वादों, भ्रष्टाचार और सांप्रदायिकता को बर्दाश्त नहीं कर रही है।

data-unruly-ad-type="horizontal">

अमित शाह ने अपने ट्वीट में लिखा अगर कांग्रेस वास्तव में जानना चाहती है कि जन आक्रोश क्यों हैं, तो उन्हें आज की रैली में जवाब देना चाहिए कि वह संसद क्यों नहीं चलने दे रहे हैं। उन्हें जवाब देना चाहिए कि कांग्रेस ने ओबीसी कमीशन के गठन को क्यों रोका है जो पिछड़े वर्गों को न्याय देता है?

अमित शाह आगे लिखा कि मैं यह भी आशा करता हूं कि कांग्रेस अध्यक्ष देश के संस्थानों को अस्थिर करने के प्रयासों पर देश से माफी मांगेंगे। उन्होंने ऐसा सिर्फ सत्ता की भूख के लिया किया। कांग्रेस के इन नकारात्मक और घुमावदार रणनीति से देश थक गया है।

राहुल गांधी की जन आक्रोश रैली

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज दिल्ली के रामलीला मैदान में जन आक्रोश रैली को संबोधित कर रहे हैं। पार्टी के अध्यक्ष पद की कमान संभालने के बाद से राहुल गांधी सरकार के खिलाफ काफी आक्रमक हैं। इस जन आक्रोश रैली को भी एक तरह से राहुल गांधी का शक्ति परीक्षण ही माना जा रहा है। इस जनसभा को काफी महत्वपूर्ण इसलिए भी माना जा रहा है क्योंकि यह कर्नाटक में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here