Home national युवाओं के मौलिक अधिकारों का हनन कर रही अनुबंध प्रथा : कैप्टन...

युवाओं के मौलिक अधिकारों का हनन कर रही अनुबंध प्रथा : कैप्टन बालक राम शर्मा

82
0
SHARE


जनवक्ता डेस्क बिलासपुर
हिमाचल प्रदेश भूतपूर्व सैनिक कल्याण एवं विकास समिति के अध्यक्ष रिटायर्ड कैप्टन बालक राम शर्मा ने अनुबंध प्रथा का विरोध करते हुए कहा कि यह प्रथा युवाओं के मौलिक अधिकारों का हनन कर रही है। उन्होंने कहा कि यदि पैसे बचाने के लिए अनुबंध नीति चलानी ही है तो सांसद तथा विधायक भी अनुबंध पर ही रखे जाएं। नई पेंशन योजना के तहत जिस तरह सरकारी कर्मचारियों की पेंशन को बंद कर दिया गया है उसी तरह 2003 के बाद चुने गए नेताओं की पेंशन को भी बंद कर दिया जाना चाहिए। उन्होंने चेताया

कि यदि सरकार पुरानी पेंशन की बहाली नहीं करती है तो लोग नोटा का बटन दबाकर दोनों पार्टियों को करारा जबाब देंगे अथवा नया विकल्प खोजेंगे। उन्होंने कहा कि वह अरसे से हिमाचल सैनिक रेजीमेंट खोलने की मांग कर रहे हैं लेकिन आज तक आश्वासन ही मिले हैं। हिमाचल में सैनिक प्रशिक्षण केंद्र खुलने चाहिए तथा नशे जैसी गलत आदतों में पड़ रहे युवाओं को बचाने के लिए कदम उठाने चाहिए। सरकार ने सैनिकों को सैनिक वैलफेयर के द्वारा नौकरी देने को कहा है लेकिन योग्यता पूरी न होने व कोर्स नही होने पर उस पद पर सैनिकों के बच्चों को नियुक्ति दी जाये। वेल्फेयर कार्यालय में 80 से 120 पद खाली पड़े हुए हैं। उन पदों पर भी सैनिकों के बच्चों को लाभ मिलना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here