Home national मानवता की सेवा से बड़ा कोई धर्म और कार्य नहीं : आचार्य...

मानवता की सेवा से बड़ा कोई धर्म और कार्य नहीं : आचार्य देवव्रत

34
0
SHARE

हमीरपुर जिला के भोटा में सांसद मोबाइल स्वास्थ्य (एसएमएस) सेवा कार्यक्रम

पूर्व मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने इस अवसर पर राज्यपाल का स्वागत किया

जनवक्ता डेस्क बिलासपुर
राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने कहा कि मानवता की सेवा से बड़ा कोई धर्म और कार्य नहीं है और जो लोग पीड़ित मानवता के लिए कार्य कर रहे हैं, वे समाज के लिए प्रेरणा के स्रोत हैं।
राज्यपाल आज हमीरपुर जिला के भोटा में सांसद मोबाइल स्वास्थ्य (एसएमएस) सेवा कार्यक्रम के शुभारम्भ अवसर पर बोल रहे थे।
उन्होंने सांसद अनुराग ठाकुर के एक स्थानीय गैर सरकारी संगठन प्रयास सोसायटी की सहायता से सार्वजनिक स्वास्थ्य देखभाल कार्यक्रम आरम्भ करने के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कार्यक्रम के उद्देश्य जिसके तहत जिले के लोगों को उनके घर-द्वार के निकट निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करना है, को भी सराहा। उन्होंने कहा कि एसएमएस सेवा 40 अलग-अलग चिकित्सा प्रशिक्षणों के संचालन के लिए अति आधुनिक मोबाइल पैथोलॉजी प्रयोगशाला का उपयोग करती है और इसके माध्यम से लोगों को सभी प्राथमिक सेवाएं व दवाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं। इस एसएमएस सेवा की अनेक अनूठी उपलब्धियां हैं और इसके लाभार्थियों में 80 प्रतिशत से अधिक महिलाएं शामिल हैं।
उन्होंने सांसद अनुराग ठाकुर की प्रदेश में वहृद स्तर पर खेल गतिविधियां आरम्भ करने के प्रयासों की भी सराहना की तथा कहा कि इससे युवा अपना समय खेल गतिविधियों में लगाएं और नशे की आदत से दूर रह कर राष्ट्र निर्माण में अपना बहुमूल्य योगदान दे सकेंगे। उन्होंने कहा कि देश भ्रमण योजना भी अनुराग ठाकुर की एक अच्छी पहल है, इससे बेटियों को आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि ऐसे कार्यक्रम नियमित रूप से जारी रहने चाहिए, क्योंकि इनका मानवता की सेवा में महत्वपूर्ण योगदान रहता है। उन्होंने अनुराग ठाकुर को इन प्रयासों के लिए बधाई दी तथा विश्वास जताया कि लोग

इनसे लाभान्वित होंगे।
राज्यपाल ने इस अवसर पर एसएमएस सेवाएं को बढ़ावा देने में कार्यरत लोगों को भी सम्मानित किया।
पूर्व मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने इस अवसर पर राज्यपाल का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि एसएमएस सेवा एक मोबाइल मेडिकल इकाई शामिल है, जो हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के दूरदराज गांव में अपनी सेवाएं दे रही है। उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम डॉ. बी.आर. अम्बेडकर की जयन्ती 14 अप्रैल, 2018 को आरम्भ किया गया और कुछ ही माह के दौरान एसएमएस सेवा से 51 हजार से अधिक लोगों को प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं उपलब्ध हुई। उन्होंने कहा कि इस सुविधा को अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने इस नई सोच के तहत योजना को आरम्भ करने के लिए सांसद अनुराग ठाकुर को बधाई दी।
उन्होंने कहा कि अनुराग ठाकुर ने खेल महाकुंभ की भी पहल की है, जिसमें 25 हजार से अधिक युवाओं ने भाग लिया।इसके अतिरिक्त सांसद भारत दर्शन योजना भी आरम्भ की है। उन्होंने कहा कि इस योजना के अन्तर्गत हमीरपुर संसदीय क्षेत्र से 250 बच्चे चयनित किए गए हैं।, जो देश भर के महत्वपूर्ण स्थानों का भ्रमण करेंगे ताकि वे ज्ञान व नई सोच के साथ आगे बढ़ सकें।
विधायक कमलेश कुमारी ने राज्यपाल तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत करते हुए कहा कि प्रयास सोसायटी पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल की प्रेरणा से आरम्भ की गई थी और वे इस सोसायटी की संस्थापक सदस्य हैं। उन्होंने सांसद अनुराग ठाकुर का जिले में आदर्श स्वास्थ्य सेवा आरम्भ करने के लिए आभार व्यक्त किया और कहा कि एसएमएस सेवा निःस्वार्थ भाव से सभी के लिए उपलब्ध है।
प्रयास सोसायटी के समन्वयक संजीव राजपूत ने राज्यपाल व अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया तथा सोसायटी द्वारा उपलब्ध करवाई जा रही स्वास्थ्य सेवाओं के बारे में जानकारी दी।
पूर्व विधायक बलदेव शर्मा, एपीएमसी के अध्यक्ष अजय शर्मा, उपायुक्त हमीरपुर डॉ. रिचा वर्मा, पुलिस अधीक्षक रमन मिना व जिले के गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here