Home national भाजपा द्वारा आंबेडकर जयंती मनाने का नाटक दलित वोट ऐंठने का घिनौना...

भाजपा द्वारा आंबेडकर जयंती मनाने का नाटक दलित वोट ऐंठने का घिनौना प्रयास

12
0
SHARE


जनवक्ता डेस्क, बिलासपुर
भारतीय जनता पार्टी जहां अपने गुप्त एजैण्डा में वर्णित मनुवादी संंविधान को देश में लागू करने के लिए बाबा साहब डाक्टर भीमराव आंबेडकर द्वारा निर्मित संविधान को समाप्त करने के लिए अप्रत्यक्ष रूप से काम कर रही है, वहाँ केवल लोकसभा चुनाव के दौरान ही भारतीय जनता पार्टी द्वारा जगह-जगह भारत रत्न डाक्टर भीमराव आंबेडकर जी की जयंती समारोह मनाने का नाटक करना मात्र दलित समाज को बरगलाकर उनके वोट ऐंठने का घिनौना प्रयास है। भाजपा पर यह आरोप लगाते हुए प्रदेश युवा कांग्रेस के सचिव सुधीर कुमार सुमन ने भारतीय जनता पार्टी को वोटों की ठगी करने वाली पार्टी करार देते हुए कहा कि झण्डुता चुनाव क्षेत्र के बल्हसीणा जनपद में गत दिवस स्थानीय विधायक जीतराम कटवाल की अध्यक्षता में डाक्टर भीमराव आंबेडकर जयंती समारोह का आयोजन किया गया जिसमें स्थानीय विधायक कटवाल ने केवल दलित समुदाय को इस कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए भारी दबाव बनाया और समारोह में हमीरपुर संसदीय क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी अनुराग

ठाकुर के आने का खूब प्रचार किया परन्तु फिर भी यह कार्यक्रम प्लाप रहा और चुनावी बेला में स्थानीय विधायक द्वारा भोली भाली जनता को वोट प्राप्ति के लिए बहकाने का सपना चकनाचूर हो गया। प्रदेश युवा कांग्रेस के सचिव सुधीर ने भाजपा नेताओं तथा कार्यकर्ताओं को सलाह देते हुए और लोकसभा 2014 के चुनाव में किये गए वायदों की याद दिलाते हुए कहा है कि ड्रामा रचकर धोखे से वोट ऐंठने के बजाए जनता को बतायें कि हर साल युवाओं को दो करोड़ नौकरियां देने, प्रत्येक नागरिक के जन धन योजना के अन्तर्गत खुलवाए गए बैंक खाते में पन्द्रह लाख रुपये डालने, मंहगाई को कम करने वाले वायदों का क्या बना।सुधीर ने कहा कि जनता भाजपा से इन मुद्दों का जवाब मांग रही है परन्तु भाजपा के नेता और कार्यकर्ता जनता को बहकाने व बरगलाने में जुटे हुए हैं। सुधीर ने आशा व्यक्त की है कि हिमाचल प्रदेश की प्रबुद्ध और पारखी जनता इन सामप्रदायिक ताकतों के झांसे में नहीं आयेगी तथा कांग्रेस पार्टी के हक में वोट डालकर चारों सीटें कांग्रेस की झोली में डालकर साम्प्रदायिक व फिरकापरस्त ताकतों के देश को बांटने वाले इरादों को चकनाचूर कर देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here