Home national जश्न की मस्ती में आम जनता का दर्द भूली हिमाचल सरकार :...

जश्न की मस्ती में आम जनता का दर्द भूली हिमाचल सरकार : डा. तेज प्रताप पांडेय

82
0
SHARE

चोर दरवाजे से बिजली के दाम बढ़ा कर उपभोक्ता की जेब पर डाका

जनवक्ता डेस्क बिलासपुर
हिमाचल प्रदेश सरकार जहां एक ओर अपनी सत्ता का एक साल पूरे करने का जश्न मना रही है वहीं आम जनता के साथ किया जा रहा खिलवाड़ किसी को नजर नहीं आ रहा है । यह बात पत्रकारों को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डा. तेज प्रताप पांडेय नें कही। उन्होंने कहा कि हिमाचल सरकार ने चोर दरवाजे से बिजली के दाम दोगुना कर दिए हैं और इस समय हिमाचल प्रदेश में उपभोक्ताओं की जेब पर डाका डाला जा रहा है । हिमाचल प्रदेश विद्युत उत्पादन करता है लेकिन हिमाचल में बिजली बार-बार महंगी क्यों की जा रही है इस बात का जवाब आम आदमी पार्टी प्रदेश सरकार के मुखिया जयराम ठाकुर से मांगती है । हिमाचल के लोगों की जमीने इन विद्युत परियोजनाओं को लगाने के लिए चली गई और ना तो उन लोगों को सही तरीके से मुआवजा मिला और ना ही कंपनियों ने उन्हें किसी प्रकार की नौकरी दी। भारत का मंदिर कहे जाने वाले भाखड़ा बांध के विस्थापित आज भी दर-दर की ठोकरें

खा रहे हैं लेकिन ना तो कांग्रेस पार्टी और ना ही भारतीय जनता पार्टी का ध्यान इस ओर जाता है दोनों ही राजनीतिक दल चुनावों के वक्त विस्थापितों को बेवकूफ बनाकर वोट हासिल कर लेते हैं और उसके बाद कोई सुध नहीं ली जाती। उन्होंने कहा कि भाखड़ा बांध बनने के समय जो समझौता हुआ था उसमें बिलासपुर के विस्थापितों को मुफ्त बिजली उपलब्ध करवाई जानी थी लेकिन आज तक ना तो कांग्रेस और ना ही भाजपा इस बारे में कुछ ठोस निर्णय ले पाई है । पांडेय ने कहा कि अगर दिल्ली का उदाहरण दिया जाए तो केजरीवाल ने अपनी सरकार में किए गए वादे को पूरा करते हुए दिल्ली वासियों को सस्ती बिजली उपलब्ध करवाई है । दिल्ली में सरकार में बिजली महंगी खरीदती है लेकिन उपभोक्ताओं को सस्ते रेट पर उपलब्ध करवा रही है और तो और पिछले 3 वर्षों से बिजली के दाम तक नहीं बढ़े हैंे। जहां तक सांसद अनुराग ठाकुर की बात है सिवाय आश्वासनों के उसने कुछ नहीं किया और ना ही भाखड़ा विस्थापितों के बारे में कोई बयान दिया । आने वाले 2019 के संसदीय चुनाव में लोग एकदम तैयार हैं कि भाजपा और कांग्रेस को बाहर का रास्ता दिखाएं और आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी को लोकसभा में भिजवाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here