Home national उच्चत्तर शिक्षा विभाग, हिमाचल प्रदेश सरकार ने मेधा प्रोत्साहन योजना आरंभ की

उच्चत्तर शिक्षा विभाग, हिमाचल प्रदेश सरकार ने मेधा प्रोत्साहन योजना आरंभ की

71
0
SHARE

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए आवेदन आमंत्रित

जनवक्ता डेस्क बिलासपुर
उप निदेशक उच्च शिक्षा अमर सिंह ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया कि उच्चत्तर शिक्षा विभाग, हिमाचल प्रदेश सरकार ने मेधा प्रोत्साहन योजना आरंभ की है। उन्होंने बताया कि इस योजना के अतंगर्त मेधावी विद्यार्थियों से राज्य एवम् राज्य से बाहर के संस्थानों से जोकि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के कार्य में कार्यरत हैं तथा उच्चत्तर शिक्षा विभाग द्वारा चिन्हित हैं, से CLAT/NEET/IIT-JEE/AIIMS/AFMC/NDA etc. एवम् UPSC / SSC / Banking and Insurance, Railways इत्यादि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए आवेदन आमंत्रित है। उन्होंने बताया कि इस योजना के अंर्तगत आवेदन के लिए विद्यार्थी हिमाचल प्रदेश का स्थायी निवासी तथा 10$2 स्तर के 350 अभ्यार्थियों तथा स्नातक स्तर के 150 अभ्यार्थियों का मैरिट के आधार पर चयन किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि वर्तमान में 10$2 कक्षा में पढ रहे सामान्य वर्ग श्रेणी के विद्यार्थियों द्वारा 10$1 कक्षा में कम से कम 75 प्रतिशत अंक प्राप्त कियें हों जबकि अनु. जाति/जनजाति/अन्यपिछडा वर्ग/आई.आर.डी.पी./बी.पी.एल. श्रेणी के विद्यार्थियों द्वारा 10$1 कक्षा में कम से कम 65 प्रतिशत अंक होंना अनिवार्य हैं तथा 10$2 कक्षा पास कर चुके विद्यार्थियों के लिए सामान्य वर्ग में 75 प्रतिशत तथा आरक्षित वर्ग 65 प्रतिशत होना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि स्नातक स्तर के विद्यार्थियों के लिए अंको की प्रतिशतता सामान्य वर्ग

50 प्रतिशत तथा आरक्षित वर्ग 45 प्रतिशत होना चाहिए।
उन्होंने बताया कि अभ्यार्थी के परिवार की कुल आय मु. 2.50 लाख प्रतिवर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए तथा इस योजना में चयनित विद्यार्थी को संस्थान में सभी कक्षाओं में उपस्थित रहना अनिवार्य होगा। इस योजना में चयनित विद्यार्थी को जीवनकाल में अधिकतम एक लाख रूपये की वित्तिय सहायता प्रदान की जाएगी। जोकि विद्यार्थी प्रतियोगिता की तैयारी के दौरान अपने भरण-पोषण, संस्थान की फीस, किताबें तथा अन्य प्रकाशित सामग्री पर खर्च करेगा। उन्होंने बताया कि चयनित विद्यार्थी को वित्तिय सहायता स्मार्ट कार्ड के माध्यम से वितरित की जाएगी, जिसे पात्रता की शर्तें पूरी करने के उपरांत विद्यार्थी व्यक्तिगत रूप में सीधे तौर पर संस्थान में जमा करवायेगा तथा यह राशि अन्य कार्यों के लिए खर्च नहीं हो पाएगी। इस योजना में 30 प्रतिशत सीटें छात्राओं के लिए आरक्षित रहेगीं तथा अन्य सीटों में आरक्षण सरकार के नियमों के अनुरूप रहेगा।
उन्होंने कहा कि इच्छुक एवम् पात्र विद्यार्थी इस योजना का लाभ उठानें के लिए अपना आवेदन पत्र ई.मेल के माध्यम से 31 जनवरी 2019 तक राज्य परियोजना निदेशक, राज्य परियोजना मूल्याॅंकन एवम् नवीन प्रयास ईकाई, उच्चत्तर शिक्षा विभाग, हिमाचल प्रदेश सरकार के ई.मेल medhaprotsahanhp@gmail.com में जमा करवा सकते है। उन्होंने बताया कि निर्धारित तिथि के उपरातं प्राप्त होने वाले आवदेनों पर विचार नहीं किया जाएगा। योजना से संबधित पूर्ण जानकारी शिक्षा निदेशक उच्चत्तर, हिमाचल प्रदेश की वैबसाईट www.educationhp.org पर उपलब्ध है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here